Hindi

My Yajna and Indology Kumbh Mela Harvard धर्मान्तरण प्राचीन पुरातात्विक NGO Racket गुरुओं

हमारे गुरुओं को संरक्षित करना क्यों महत्वपूर्ण है

हिंदू धर्म के विधायक लक्षणों में से सबसे महत्वपूर्ण लक्षण यह है कि उसके सुदीर्घ इतिहास में समय-समय पर जीते–जागते महापुरुष व्यापक पैमाने पर प्रकट होते रहे हैं । इन्हीं…


TOI spreading false rumors

टाइम्स ग्रुप  विमुद्रीकरण संबंधित मौतों की झूठी अफवाहें फैला रही है

मीडिया 500 और 1000 रुपये के  विमुद्रीकरण  के कारण जनता को हो रहे असुविधा की कहानियाँ को उन्मादित तरीके से देश के सामने प्रस्तुस्त कर रही है|  हम चिंताजनक सबूत देख…



संस्कृत

‘दी बैटल फॉर संस्कृत’ (संस्कृत के लिए संघर्ष) – सारांश

बहुत समय से भारत से संबंधित (अकादमिक व सामान्य) लेखों में पश्चिमी दृष्टिकोण का प्रभाव रहा है। इन दिनों भारत के भीतर इस क्षेत्र में पश्चिमीकरण एवं पश्चिम की दखल…


भारत विखंडन

विदेशी मेल-जोल वाली शक्तियों का भारत में संचालन – राजीव मल्होत्रा एवं बाबा रामदेव की चर्चा (वीडियो 2)

अगस्त 2013 में श्री राजीव मल्होत्रा और बाबा रामदेव के बीच पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार आश्रम में कई विषयों पर चर्चा हुई| इस चर्चा के वीडियो हम एक शृंखला के रूप में…


भारत विखंडन

भारत विखंडन की दीर्घकालिक शक्तियाँ – राजीव मल्होत्रा एवं बाबा रामदेव की चर्चा (वीडियो 1)

अगस्त 2013 में श्री राजीव मल्होत्रा और बाबा रामदेव के बीच पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार आश्रम में कई विषयों पर चर्चा हुई| इस चर्चा के वीडियो हम एक शृंखला के रूप में…



संविधान संशोधन

कांग्रेस द्वारा लाए गये 93 वें संविधान संशोधन का संक्षिप्त इतिहास

वर्ष 2005 की शुरुआत कांग्रेस के लिए जश्न मनाने का समय था. पार्टी को अभी-अभी भाजपा के नेतृत्व वाले राजग (NDA) पर लोकसभा के चुनावों में अप्रत्याशित विजय प्राप्त की थी. कांग्रेस…


My Yajna and Indology Kumbh Mela Harvard धर्मान्तरण प्राचीन पुरातात्विक NGO Racket गुरुओं

भारत विखंडन – द्रविड़ और दलित मामलों में पश्चिम का हस्तक्षेप

यह किताब (भारत विखंडन/Breaking India) पिछले दशक के मेरे उन तमाम अनुभवों का नतीजा है जिन्होने मेरी शोध और बौद्धिकता को प्रभावित किया है। ९० के दशक  की बात है,…


स्वदेशी इंडोलोजी

प्रथम स्वदेशी इंडोलोजी कांफ्रेंस – राजीव मल्होत्रा जी के भाषण के अंश

करीब २० साल पहले इन्फिनिटी फाउंडेशन ने यह समझना चाहा कि अमेरिकी अकेडेमिया में भारत से सम्बंधित विषयों पर क्या और कैसा शोध होता है? इसलिए हमने उन जगहों को…