अमेज़न प्राइम “फोर मोर शॉट्स प्लीज” वेब सीरीज की समीक्षा

अमेज़न प्राइम पर एक वेब सीरीज शुरू हुई है “फोर मोर शॉट्स प्लीज” (4 more shots please)। यह उसकी दूसरी सीज़न है और मैं आज आपको पूरी सीज़न का निचोड़ बताती हूं। बॉलीवुड के कथाकथित बुद्धिजीवी अब वेब सीरीज के नाम पर हमारे युवा को किस दिशा में ले जा रहे है, इसका विवरण पढ़िए।

कहानी है चार सहेलियों की, जो कि एक दूसरे को सही मार्ग दिखाने में बहुत हद तक असफल लगी मुझे और साथ में बैठकर दारू पीने और बकैती करने में बहुत हद तक सफल। चारों की कहानी में सबसे ज्यादा कुछ महत्व अगर किसी बात को दिया गया है तो वो है केवल सेक्स लाइफ।

उनमें से एक है कॉर्पोरेट जगत की सफल वकील साहिबा, जो कि सिंगल पैरेंट है। पति से तलाक हो चुका है, उसका पति दूसरी शादी कर चुका है, वकील साहिबा भी किसी सहकर्मी के साथ लिव-इन में रहने लगती है, बेटी की कस्टडी पिता को मिल जाती है क्योंकि माताश्री नशे में होकर गाड़ी ठोक देती है।

अब उसके एक्स-पति की बीवी गर्भवती होती है और अचानक से उसको उसकी मौजूदा पत्नी उबाऊ और एक्स-बीवी आकर्षक लगने लगती है। किसी नाज़ुक पल में एक्स-पति पत्नी थोड़ी देर के लिए बहक जाते हैं और कुछ चुंबन सीन्स आ जाते हैं, फिर अचानक एक्स-बीवी को याद आता है कि यह सही नहीं है।

इस समय में बिचारा सहकर्मी वकील साहिबा के प्यार में अंधा हो जाता है और यह बात फिर से वकील साहिबा से हजम नहीं होती, इसलिए बिना किसी वजह के और फिर से शादी के डर से वो उसे छोड़ देती है। वो बिना शादी के रहने के लिए भी तैयार है पर अब मैडम का मन भर गया है इससे तो टाटा टाटा बाय बाय।

अब आते हैं दूसरी महिला पर जोकि लेस्बियन भी है और बाय-सेक्शुअल भी है! घर वालों से भागकर मुंबई में अपनी करियर बनाती है जीम इंस्ट्रक्टर बन कर ! उसके सहकर्मी जीम इंस्ट्रक्टर के साथ भी उसके शारीरिक संबंध रहते हैं, एक दिन ट्रेनिंग देते हुए वो एक बेहद फेमस हेरोइन के प्यार में पड़ जाती है।

किस्मत से वो हेरोइन भी लेस्बियन निकलती है और दोनों के बीच इलू इलू हो जाता है. भारी बदनामी के कारण दोनों का ब्रेकअप होता है, हेरोइन बदनामी के चलते डिप्रेशन में चली जाती है और ये उसे फिर से प्यार करके उस ज़ोन से निकलती है, सब सही है, दोनों शादी करनेवाले है, डेस्टिनेशन वेडिंग.

अब अचानक उनके प्यार के चर्चे आसमान पर है और हीरोइन को हॉलीवुड ऑफर आती है, शादी के दिन वो उसे हां कहती है और दोनों के लिए हॉलीवुड करियर सेट करती है! लेकिन अब इंस्ट्रकर के दिल में एकदम से फेमिनिज्म जाग उठता है उसकी आजादी और करियर को लेकर, इसलिए वो मंडप से भाग जाती है!

अब आते हैं तीसरी महिला जो कि एक पत्रकार है! जिसके जीवन करियर और अलग अलग बन्दों के साथ सोने के अलावा तीसरा कोई लक्ष्य ही नहीं है! दोस्त के साथ हूक अप, अपने डॉक्टर के साथ हूक अप और प्यार में पड़ती है ‘फोर मोर शॉट्स’ बार के बार टेंडर के! प्यार बार वाले से करती है और हूक अप डॉक्टर से.

अब बार वाला उसको डॉक्टर से किस करते देख लेता है और ब्रेक अप कर देता है, शादी करके आगे बढ़ता है! तब तक डॉक्टर तो स्टैंड बाय पर है ही! अब अचानक से कुछ महीने बाद फिर से बार वाले और उसके बीच इलू इलू होता है और उसके लिए वो उसकी प्रेमिका/बीवी को छोड़ देता है.

उन लोगों के साथ रहे अब १ महीना बीत जाता है और उसको पता चलता है कि वो २ महीना प्रेग्नेंट है, जो बच्चा उस डॉक्टर का है! इतने मॉर्डन है कि डॉक्टर और ये बच्चे का मिलकर पालन-पोषण करने के लिए भी तैयार हो जाते हैं बिना किसी फिजिकल रिलेशन के और इस निर्णय से अभी तक बार वाला अंजान है!

अब उसको पता चलता है कि मैडम किसी और से प्रेग्नेंट है इसलिए वो उसे छोड़ देता है और ये महान देवी डॉक्टर के साथ को-पेरेंटिंग करने के लिए सिंगापुर जाने तक तैयार हो जाती है! अब बार वाला फिर से आ जाता है उसे अपनाने के लिए और डॉक्टर से झगड़ लेता है, तभी लड़की का मिसकैरेज हो जाता है!

अब वो इतनी दुखी हो गई है मिसकैरेज को लेकर कि वो उस डॉक्टर को भी छोड़ देती है और बार वाले के साथ सच्चा वाला प्यार भी हवा बनकर उड़ जाता है! सो अल्टीमेटली अब वो फिर से आज़ाद पंछी है! इस दौरान एक बात कहना तो भूल ही गई कि कतई इंटेलेक्चुअल लेफ्टिस्ट भी है ये.

जज की हत्या पर काफी प्रोपगंडा चलाकर बुक लिखती है और सरकार पर हल्ला बोल करती है! उसको लगता है कि पूरी दुनिया गलत है और एक उसकी पत्रकारिता ही आखरी सत्य है! खैर अब वो न डॉक्टर के साथ है न बार वाले के साथ.. फिलहाल दुःख में है..

अब आते हैं आखरी महिला पर जिसे गूज्जू दिखाया गया है जो कि अपने मोटापे से इतनी परेशान है कि उसकी माता उसके डायट और उसे सेक्सी दिखाने के चक्कर में लगी रहती है! डिप्रेशन के चलते मैडम किसी सेक्स साइट पर अकाउंट बनाकर अंग प्रदर्शन करती है और ढेर सारी लाइक और अटेंशन बटोरती है!

कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब उसका एक कस्टमर (फॉलोवर) उसके ही आनेवाले पति और बेस्ट फ्रेंड का पिता निकलता है मानि की ससुर! ससुर की नीयत बिगड़ती है और होनेवाली बहू को बैल्क मेल करता है लेकिन बहू बहादुर है और सच बोल देती है! ऐंड ऑफ मैरिज उसका भी और उसके सास ससुर का भी!

अब कुछ महीने वो उसके एक्स मंगेतर को स्टॉक करती रहती है और वो इसे, लेकिन बीच में दूसरे बॉयफ्रेंड के साथ हूक अप तो चालू ही है मोहतरमा का! अब वो बॉयफ्रेंड को भी टाटा, बिचारा वो मंगेतर फिर से इसे अपनाने के लिए आता है तो यह मैडम उसे ठुकरा देती है यह कहकर कि मैं तय्यार नहीं हूं!

अब आते है फिर से वकील साहिबा पर जो कि अभी किसी तीसरे शादीशुदा इन्सान जो कि खुद को ओपन मैरिज में कहता है और जोकि उसका वर्क पार्टनर भी है उसके साथ सिर्फ सेक्सुअली इन्वॉल्व होती है! जब पता चलता है कि वो ओपन मैरिज नहीं बल्कि धोखा था सावित्री बनकर चली जाती है!

तो अब वकील साहिबा लगभग ३ अफेयर के बाद भी आज़ाद है, जीम इंस्ट्रक्टर अपनी पसन्द की लड़की के साथ शादी के मंडप से भागकर आज़ाद है, पत्रकार बार वाले और डॉक्टर को छोड़कर आज़ाद है और गुज्जू लड़की सारे बॉयफ्रेंड और मंगेतर को टाटा बोलकर भी आज़ाद है..

पूरी सीरीज का केवल एक ही मकसद है यूथ को भटकाना.. कभी आज़ादी के नाम पर, कभी आगे बढ़ने के नाम पर, कभी हूक अप के नाम पर, कभी सब चलता है यार के नाम पर और कभी सारे सेक्शुअल रिलेशन को सही ठहराने के नाम पर.. इतनी वाहियात सीरीज को ग्रीन सिग्नल भी मिल जाती है और उफ्फ तक नहीं होती!

(यह लेख  @YeshaJethva1 के tweet thread से संकलित किया गया है।)


क्या आप को यह  लेख उपयोगी लगा? हम एक गैर-लाभ (non-profit) संस्था हैं। एक दान करें और हमारी पत्रकारिता के लिए अपना योगदान दें।

हिन्दुपोस्ट  अब Telegram पर भी उपलब्ध है. हिन्दू समाज से सम्बंधित श्रेष्ठतम लेखों और समाचार समावेशन के लिए  Telegram पर हिन्दुपोस्ट से जुड़ें .