अब मंदिरों को खोलने की अनुमति दें, कोविड की सावधानियों के साथ : आलोक कुमार, विहिप

विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने सभी मंदिरों, गुरुद्वारों, आश्रमों तथा अन्य उपासना स्थलों को खोलने की मांग की है जिससे इस महामारी के कारण घरों में बंद लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर बढ़ रहे विपरीत प्रभावों पर अंकुश लगाया जा सके।

विहिप के केन्द्रीय कार्याध्यक्ष एडवोकेट श्री आलोक कुमार ने आज एक प्रेस वक्तव्य के माध्यम से कहा है कि कोरोना महामारी के कारण लम्बे समय से घरों में बंद लोग मानसिक तनाव का शिकार बन कर डिप्रेशन की ओर बढ़ रहे हैं। ऐसे में कोविड सम्बन्धी सभी सावधानियों का पालन करते हुए, देशवासी मंदिरों तथा उपासना केन्द्रों में जाकर उस मानसिक तनाव से मुक्ति प्राप्त कर सकेंगे।

श्री आलोक कुमार ने यह भी कहा कि हिन्दू समाज अनुशासन तथा कानून की अनुपालना में सदैव ही अपनी जिम्मेदारी निभाता रहा है तथा माता वैष्णो देवी की यात्रा भी महामारी के सभी आवश्यक मापदंडों का पालन करते हुए चल ही रही है।

इसीलिए अब उचित समय आ गया हैं कि सरकार सभी मंदिरों को खोलने की अनुमति अबिलम्ब प्रदान करे।

(उपरोक्त प्रेस विज्ञप्ति श्री विनोद बंसल, राष्ट्रीय प्रवक्ता, विश्व हिंदू परिषद द्वारा प्रदान की गई है)


क्या आप को यह  लेख उपयोगी लगा? हम एक गैर-लाभ (non-profit) संस्था हैं। एक दान करें और हमारी पत्रकारिता के लिए अपना योगदान दें।

हिन्दुपोस्ट  अब Telegram पर भी उपलब्ध है। हिन्दू समाज से सम्बंधित श्रेष्ठतम लेखों और समाचार समावेशन के लिए  Telegram पर हिन्दुपोस्ट से जुड़ें ।