Crimes Against Women







संजय राउत ने किया स्वप्ना पाटकर के सपनों पर प्रहार

कल्पना कीजिये एक स्त्री है, जिन्हें एक राजनेता आज से नहीं कई वर्षों से प्रताड़ित कर रहा है।  वह बार बार हर चौखट पर न्याय के लिए जाती हैं, मगर…