JNU

JNU Sedition Bastar

JNU saga has nothing to do with freedom of expression

Youth is the embodiment of passion, turbulence, romanticism, and enlightenment. There is hardly an example of a mass movement, political or otherwise, having succeeded without the active participation of the…



JNU_Court_Fracas

JNU मुक़दमे के दौरान क्या छात्रों और पत्रकारों ने वकीलों से बदसलूकी की और हिंसा भड़काई ?

हमारी राष्ट्रीय मीडिया , विशेषकर अंग्रेजी मीडिया वकीलों, JNU छात्रों और पत्रकारों के बीच हुई हाथापाई के खिलाफ खड़ी हो गयी है। ये घटना पटियाला कोर्ट में १५ फरवरी को…